पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना 2024: खेतों में सोलर पैनल लगवाने के लिए सरकार दे रही है सब्सिडी, ऐसे करे आवेदन

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना सरकार ने किसानों की समस्याओं को हल करने और कृषि क्षेत्र को सशक्त बनाने के लिए पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत, किसानों को उनके खेतों में सोलर पंप लगवाने पर सब्सिडी दी जा रही है। 2 हॉर्स पावर से 5 हॉर्स पावर के सोलर पंप पर 90% तक की सब्सिडी मिल रही है, और इसका लाभ 35 लाख किसानों को देने का लक्ष्य है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना योजना के पहले चरण की जानकारी

योजना के पहले चरण में 17.5 लाख डीजल और पेट्रोल पंपों को सोलर पैनल से चलाने का लक्ष्य रखा गया है। अब देश के सभी किसान अपने डीजल और पेट्रोल पंपों को सोलर ऊर्जा से संचालित कर सकते हैं। यदि आप किसान हैं और अपने खेत में सोलर पंप लगवाना चाहते हैं, तो इस योजना के लिए आवेदन करना होगा। इसके लिए आपको सरकार द्वारा तय की गई कुछ योग्यताओं को पूरा करते हुए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। अधिक जानकारी के लिए इस लेख को अंत तक पढ़ें।

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना का संक्षिप्त विवरण

योजना का नामपीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना
शुरुआतकेंद्र और राज्य सरकार द्वारा
लाभार्थी देश के किसान
आवेदन का तरीकाऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttps://pmkusum.mnre.gov.in/

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजनायोजना का उद्देश्य

भारत के कई राज्यों में सूखे की स्थिति और किसानों की फसलों को हो रहे नुकसान को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने यह योजना शुरू की है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को मुफ्त में बिजली उपलब्ध कराना है ताकि वे अपने खेतों की सिंचाई अच्छे से कर सकें। इससे किसानों को दोहरा लाभ होगा और उनकी आय में भी वृद्धि होगी।

READ MORE

सफाई कर्मचारी भर्ती: 484 पदों पर निकली वेकेंसी, 10वीं पास करें आवेदन

पीएम कुसुम योजना के घटक

योजना के चार प्रमुख घटक निम्नलिखित हैं:

1. सौर पंप वितरण

केंद्र सरकार के विभागों के साथ मिलकर बिजली विभाग सौर ऊर्जा पंप का सफल वितरण करेगा।

2. सौर ऊर्जा कारखाने का निर्माण

सौर ऊर्जा कारखानों का निर्माण किया जाएगा जो पर्याप्त मात्रा में बिजली उत्पादन करने की क्षमता रखते हैं।

3. ट्यूबवेल लगवाना

सरकार ट्यूबवेल लगवाएगी जो निश्चित मात्रा में बिजली उत्पादन करेगा।

4. वर्तमान पंपों का आधुनिकीकरण

पुराने पंपों को नए सौर पंपों में बदला जाएगा।

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना योजना के लाभार्थी

योजना का लाभ निम्नलिखित को मिलेगा:

  1. किसान
  2. किसानों के समूह
  3. सहकारी समितियां
  4. जल उपभोक्ता एसोसिएशन
  5. किसान उत्पादक संगठन

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना के लाभ

  1. देश के सभी किसान इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  2. रियायती मूल्य पर सिंचाई पंप उपलब्ध कराना।
  3. पहले चरण में डीजल से चल रहे 17.5 लाख सिंचाई पंपों को सौर ऊर्जा से चलाया जाएगा।
  4. योजना से मेगावाट अतिरिक्त बिजली का उत्पादन होगा।
  5. सोलर पैनल लगाने के लिए सरकार 90% सब्सिडी देगी, किसानों को केवल 10% का भुगतान करना होगा।

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना आवेदन शुल्क

सौर ऊर्जा संयंत्र के लिए आवेदन शुल्क इस प्रकार है:

  • 0.5 मेगावाट: ₹2500 + जीएसटी
  • 1 मेगावाट: ₹5000 + जीएसटी
  • 1.5 मेगावाट: ₹7500 + जीएसटी
  • 2 मेगावाट: ₹10000 + जीएसटी

यह शुल्क राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के नाम से डिमांड ड्राफ्ट के रूप में देना होगा।

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना जरूरी दस्तावेज़

  1. आधार कार्ड
  2. राशन कार्ड
  3. रजिस्ट्रेशन की कॉपी
  4. ऑथराइजेशन लेटर
  5. जमीन की जमाबंदी की कॉपी
  6. चार्टर्ड अकाउंटेंट द्वारा जारी नेटवर्थ
  7. मोबाइल नंबर
  8. बैंक खाता पासबुक
  9. पासपोर्ट साइज़ फोटो

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना आवेदन प्रक्रिया

योजना में आवेदन करने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स का पालन करें:

  1. आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  2. होम पेज पर अपने राज्य का चयन कर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन का विकल्प चुनें।
  3. आवेदन फॉर्म भरें जिसमें नाम, पता, आधार कार्ड नंबर, मोबाइल नंबर आदि जानकारी शामिल हो।
  4. सभी आवश्यक दस्तावेज़ अपलोड करें।
  5. फॉर्म सबमिट करें और पंजीयन रसीद का प्रिंटआउट निकालें।
  6. आवेदन की जांच और जमीन का भौतिक परीक्षण होगा।
  7. परीक्षण के बाद, सोलर पंप लगाने का 10% खर्च दें, और फिर आपके खेत में सोलर पंप लगाया जाएगा।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top